Menu

Everything you need to know

Plan your participation today. Get maximum benefit.

Brochure Fair Layout Rate Card Fair Catalogue

Why Pashudhan?

Livestock and agriculture are mutually inter-dependent sectors. Seventy percent of Indian farmers are engaged in some form of livestock activity. Still it is a largely untapped business opportunity with a massive potential.

The Government has allocated more than Rs 300 crores in the 2013 Budget to form the National Livestock Mission 2013-14 to attract investments and enhance productivity in the sector.

PASHUDHAN Pavilion will bring together the important stakeholders on a common platform. The fair will present new technologies, innovations and emerging opportunities and set the agenda for a dynamic Indian livestock sector.

This is your ideal business development & networking opportunity.

Confirm your participation today!

1

Kisan Initiatives

                         

पशुधन और कृषि परस्पर एक दूसरे पर निर्भर हैं. भारत के 70% किसान पशुधन गतिविधियों में सक्रिय हैं.यह उन्हें अप्रत्याशित कृषि उत्पादन से आय सुरक्षा प्रदान करता है. पशुधन ने पिछले साल भारतीय सकल घरेलू उत्पाद में 4% और कृषि सकल घरेलू उत्पाद में 21% का योगदान दिया. यह बड़ी क्षमता के साथ एक अप्रयुक्त व्यापार है. सरकार ने 2013 में इस क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाने और निवेश को आकर्षित करने के लिए राष्ट्रीय पशुधन मिशन 2013-14 के लिए बजट में 300 करोड़ रुपये से ज्यादा आवंटित किया है. इस व्यापर से जुड़े सभी महत्वपूर्ण हितधारकों को पशुधन 2014 एक साझे मंच पर लेकर आयगा. प्रद्रशिनी में नई प्रौद्योगिकियों, नव्विचार और उभरते तकनीकों का संचार होगा. यह आप के लिए अवसरों और भारतीय पशुधन क्षेत्र के लिए एक गतिशील भविष्य तय करेगा. पशुधन 2014 आपके व्यापर के विकास और प्रसार के लिए आदर्श अवसर है.

Image block

 Organized by                                                                                                                                                                 Follow us on